पंचायत समीक्षा

कोरोना का कहर :जिला युवा कांग्रेस महामंत्री का निधन..कोविड अस्पताल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप..40 दिन में कांग्रेस के 5 नेताओं की हो चुकी है मौत

छत्तीसगढ़ कोरोना बिलासपुर

पेंड्रा।।छत्तीसगढ़ कांग्रेस पर कोरोना संक्रमण भारी पड़ने लगा है। पार्टी जहां अपने नेताओं को खो रही है, वहीं सिस्टम भी लापरवाह बना हुआ है। गौरेला-पेंड्रा – मरवाही (GPM) जिला युवक कांग्रेस महामंत्री शिवा चौबे का रविवार देर रात उपचार के दौरान निधन हो गया। बिलासपुर ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। इसके बाद एक ऑडियो वायरल है। इसमें अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही और धमकी दिए जाने की बात कही जा रही है ।

दरअसल, कांग्रेस नेता शिवा चौबे में कोरोना पुष्टि होने के बाद डोंगरिया के शासकीय कोविड अस्पताल भर्ती कराया गया था। वहां तबीयत में सुधार नहीं हुआ तो उन्होंने गौरेला के एक प्राइवेट अस्पताल में खुद को रेफर करा लिया था। जहां से बिलासपुर ले जाते वक्त उनकी मौत हो गई। उनकी मौत के बाद अब एक ऑडियो वायरल हो रहा है, जो मौत से पहले एक परिचित को किए गए उनके कॉल का बताया जा रहा है।

प्राइवेट अस्पताल में भर्ती होने से पहले कॉल किया गया

ऑडियो में शिवा ने आरोप लगाया है कि डोंगरिया कोविड अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ ठीक से व्यवहार नहीं कर रहे। ऑक्सीजन सिलेंडर में प्रॉब्लम बताने पर डॉक्टर और स्टाफ ने उन्हें खुद से इलाज करने की बात कही। उनको पहले से ही समस्या हो रही थी, लेकिन रातभर उनका ऑक्सीजन सिलेंडर नहीं बदला गया। उसमें यह भी बता रहे हैं कि उनका ऑक्सीजन लेवल 98 है। बावजूद इसके तबीयत लगातार बिगड़ रही है।

लोगों में आक्रोश, कलेक्टर ने जांच के आदेश दिए

इस बातचीत के बाद ही शिवा को प्राइवेट अस्पताल में रेफर किया गया था। जहां उनकी तबीयत लगातार बिगड़ती चली गई। ऑक्सीजन लेवल डाउन होने के कारण उनकी मौत हो गई। ऑडियो के सामने आने के बाद कार्यकर्ताओं और लोगों में आक्रोश है। वे दोषी डॉक्टर और स्टाफ के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ ही कोविड सेंटर्स में सुविधाओं के विस्तार और मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार करने की मांग कर रहे हैं। फिलहाल कलेक्टर नम्रता गांधी ने मामले की प्रारंभिक जांच के आदेश दे दिए हैं।

40 दिन में कांग्रेस के 5 नेताओं की हो चुकी है मौत

प्रदेश में 40 दिन के दौरान 5 कांग्रेस नेताओं की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है। इससे पहले 5 मई को कांग्रेस प्रदेश महासचिव और बस्तर टाइगर शहीद महेंद्र कर्मा के बेटे दीपक कर्मा का निधन हो गया था। वहीं 25 अप्रैल को बिलासपुर नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष र चुके बसंत शर्मा की मौत हुई। 6 अप्रैल को गरियाबंद में असम चुनाव प्रचार से लौटीं महिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष ममता राठौर और इसके बाद 10 अप्रैल को गरियाबंद में ही छुरा ब्लाक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राजू ठाकुर का निधन हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *