पंचायत समीक्षा

छत्तीसगढ़ में ‘PSC’ का मतलब पाॅलिटिकल सेटिंग कांग्रेस- अनुराग सिंहदेव

छत्तीसगढ़ प्रदेश राजनीति रायपुर

रायपुर।। युवा मोर्चा के प्रदेश प्रभारी अनुराग सिंहदेव ने PSC के कार्य प्रणाली पर सवाल उठाया है. सिंहदेव ने भूपेश सरकार पर भी हमला बोला है. उन्होंने कहा कि जिस संस्थान का काम युवाओं के भविष्य को बनाने का है. वही संस्थान प्रदेश की कांग्रेस सरकार के इशारे पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ कर रही है. ‘PSC’ का मतलब पाॅलिटिकल सेटिंग कांग्रेस है।

अब पीएससी का मलतब ही पाॅलिटिकल सेटिंग कांग्रेस तो नहीं हो गया है. जहां पर लगातार अनियमितता और गड़बड़ियों की शिकायतें लगातार आ रही है. इस पर पीएससी की तरफ से अब तक कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है. इससे स्पष्ट होता है कि प्रदेश की सरकार युवाओं के भविष्य को लेकर चिंतित नहीं है।

पीएससी की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह

अनुराग सिंहदेव ने कहा कि इससे पहले छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के बाद कांग्रेस की सरकार जब प्रदेश में थी. तब कमोबेश पीएससी को लेकर यही हालात थे, जो अब निर्मित हुए हैं. पीएससी की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह लगने से राज्य के सारे भर्ती परीक्षा संदेह के दायरे में है. इससे पूरे देश में पीएससी की क्रेडिबिलिटी प्रभावित हो रही है।

बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सिंहदेव ने कहा कि प्रदेशभर में पीएससी के कार्यप्रणाली से आक्रोशित युवा आंदोलनरत हैं. भाजयुमो द्वारा प्रदेश स्तरीय हस्ताक्षर अभियान को व्यापक जनसमर्थन मिल रहा है. इस दिशा में प्रदेशभर में जन आंदोलन चलाया जा रहा है.  सिंहदेव ने कहा कि प्रदेश की युवाओं को 2500 रुपये प्रतिमाह बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा करके सत्ता में आयी कांग्रेस सत्ता सुख में मस्त है. युवा इस आस में है कि आखिरकार बेरोजगारी भत्ता प्रदेश की सरकार कब देगी।

6000 करोड़ रुपए की राशि अब भी शेष

अनुराग सिंहदेव ने कहा कि युवाओं को दिए जाने 6000 करोड़ रुपए की राशि अब भी शेष है. जिसे बेरोजगारी भत्ता के स्वरूप में देना था. इस सरकार को इसकी जरा भी चिंता नहीं है. उसके बाद लगातार युवाओं के साथ अहित कर रही है. जिसका जवाब वक्त आने पर छत्तीसगढ़ के युवा जरूर देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *