छत्तीसगढ़प्रदेशबीजापुर

नक्सलियों ने आरक्षक को किडनैप कर उतारा मौत के घाट…

बीजापुर।।जिले के भैरमगढ़ थाना क्षेत्र से नक्सलियों ने शनिवार को अगवा किए जवान की हत्या कर शव सड़क पर फेंक दिया. जवान छुट्टी पर घर जा रहा था इसी दौरान नक्सलियों ने उसका अपहरण कर लिया था।

पुलिस अधीक्षक कमलोचन कश्यप ने बताया कि आरक्षक सन्नू पूनम शनिवार को अपने ससुराल जाने के लिए निकला था. इसी दौरान पोंदुम गांव के पास से नक्सलियों ने जवान का अपहरण कर लिया था. रविवार की सुबह नक्सलियों ने जवान की हत्या कर केशकुतुल के पास सड़क पर फेंक दिया है. पुलिस घटना स्थल पहुंच कर मामले की जांच में जुट गई है।

आत्मसमर्पित नक्सलियों की ताक में रहते है नक्सली

नक्सली आत्मसमर्पित नक्सलियों की ताक में रहते हैं और मौका पाते ही उन्हें निशाना बनाते हैं. घर परिवार से मिलने जाना व रिश्तेदारी के गृह ग्राम पहुंचना आत्मसमर्पित नक्सलियों के लिए खतरे का संकेत रहता है. इसी दौरान नक्सली उन्हें अपना शिकार बनाते हैं. मृतक आरक्षक सन्नू पूनम समर्पण के बाद मुख्यधारा से जुड़कर सहायक आरक्षक के पद पर कार्यरत था. पुलिस भी इस मामले को लेकर गंभीरता से जांच पड़ताल कर रही है. मौके पर पहुंचकर हत्या किए जाने वाले नक्सली के सुराग में जुटी है।

नक्सल क्षेत्रों में सुरक्षाबल लगातार कर रही सर्चिंग

पुलिस की लगातार सर्चिंग के चलते माओवादी कोई बड़ी घटना को अंजाम नहीं दे पा रहे हैं.लेकिन उनकी उपस्थिति जंगलों में बरकरार है और सूचना मिलते ही आत्मसमर्पित नक्सलियों को निशाना बना रहे हैं।

सर्चिंग में नक्सली गिरफ्तार

शनिवार को ही बीजापुर में एंटी नक्सल ऑपरेशन के तहत सुरक्षाबलों को सफलता मिली थी. जवानों ने IED समेत 1 नक्सली को गिरफ्तार किया था. नक्सली मिलिशिया का सदस्य बताया जा रहा है. थाना तर्रेम और डीआरजी का संयुक्त बल तर्रेम पटेलपारा की ओर निकला था. सर्चिंग के दौरान एक संदिग्ध व्यक्ति पुलिस टीम को देखकर भागने की कोशिश कर रहा था. जिसे पुलिस ने घेराबंदी कर पकड़ लिया।

लोन वर्राटू’ अभियान से मिल रही सफलता

बस्तर में स्थानीय कैडर के नक्सलियों को सही रास्ते पर लाने के लिए छत्तीसगढ़ पुलिस लगातार कोशिश कर रही है. इसके तहत नक्सलियों के लिए एक अनोखी पहल की शुरुआत की गई है, जिसका नाम लोन वर्राटू दिया गया है, जिसका अर्थ है घर वापस लौटें. इस अभियान के तहत अब धीरे-धीरे स्थानीय कैडर के नक्सली पुलिस से संपर्क कर समाज की मुख्य धारा में वापस लौट रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button