पंचायत समीक्षा

बलरामपुर :सास-ससुर को सरेराह मार डाला..वजह दामाद को भरे समाज में कराया था उठक-बैठक…

क्राइम न्यूज़ छत्तीसगढ़ बलरामपुर सरगुजा संभाग

बलरामपुर।।पास्ता थाना क्षेत्र के बेदो बाथन जंगल में पति-पत्नी की हत्या कर दी गई थी. दोहरे हत्याकांड के मामले में पुलिस ने 24 घंटे के भीतर खुलासा किया है. वारदात में दो आरोपियों की गिरफ्तारी की गई है. हत्यारा कोई और नहीं दामाद और समधी निकला. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

दरअसल, 2 दिन पहले पस्ता थाना क्षेत्र में एक सूनसान जंगल के रास्ते पर महिला और पुरुष की लाश मिली थी. इसके बाद क्षेत्र में सनसनी फैल गई थी. मौके पर पुलिस पहुंची और मृतकों की शिनाख्त की. पुलिस ने वारदात की जिम्मेदारी फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम को सौंपी थी।

धारदार हथियार से हत्या

पुलिस ने मृतकों की शिनाख्त रहमतुल्लाह और एसूंन के रूप में की, जो विजयनगर चौकी क्षेत्र के मेंघुली गांव के रहने वाले थे. पुलिस ने मृतकों के संबंध में जानकारी जुटाई. तब पुलिस को पता चला कि मृतक दंपति अपनी बेटी मैमून निशा के घर कुसमी थाना क्षेत्र के नावाडीह से लौट रहे थे. इसी दौरान उनकी धारदार हथियार से हत्या कर दी गई थी।

ससुर की हत्या करना कबूला दामाद

पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू के मुताबिक पुलिस को जांच के दौरान परिवारिक कलह की बात सामने आई थी. तब पुलिस ने मृतक दंपति के दामाद प्यारे मोहम्मद से पूछताछ शुरू की. पुलिस की पूछताछ में आरोपी प्यारे मोहम्मद ने अपने पिता के साथ ससुर की हत्या करना कबूल कर लिया है।

धारदार हथियार से सास-ससुर की हत्या

जानकारी के मुताबिक मृतक दंपति की बेटी मोनिशा की शादी 2020 में नवाडिह निवासी प्यारे मोहम्मद से हुई थी. मृतक दंपति की पारिवारिक कलह पर दामाद को समझाइश देने गए थे. दामाद को समाज के बीच उठक-बैठक कराए थे. इसी से नाराज होकर दामाद प्यारे मोहम्मद और समधी निजाम अंसारी ने धारदार हथियार से सास-ससुर की हत्या कर दी।

ये पुलिसकर्मी रहे शामिल 

इस हत्याकांड को सुलझाने के लिए पुलिस अधीक्षक रामकृष्ण साहू और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रशांत कतलम के मार्गदर्शन में टीम बनाई गई थी. पस्ता थाना प्रभारी संपत पोटाई, चौकी प्रभारी आरके कश्यप, सहायक उपनिरीक्षक रमेश समेत अन्य पुलिसकर्मी शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *