पंचायत समीक्षा

मौसम अलर्ट :छग समेत देश के कई राज्यों में अगले 5 दिनों तक भारी बारिश..मौसम विभाग ने जारी किया Alert

देश छत्तीसगढ़ दिल्ली नई दिल्ली प्रदेश

दिल्ली।।देशभर के कई राज्यों में अब मानसून ने दस्तक दे दिया है. भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने देश के कई राज्यों में अगले 5 दिनों तक भारी बारिश को लेकर अलर्ट जारी कर दिया है. आईएमडी के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण अगले 5 दिनों तक पश्चिमी हिमालयी क्षेत्रों और नॉर्थवेस्‍ट के आसपास के इलाकों में तेज बारिश हो सकती है।

मीडिया के मुताबिक, ओडिशा, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और पूर्वोत्तर भारत में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है. सिक्किम, बिहार के कुछ हिस्सों, पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड और छत्तीसगढ़ के अलग-अलग हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश, केरल, तटीय कर्नाटक के कुछ हिस्सों और तमिलनाडु के कुछ भागों में एक या दो दिन तक भारी बारिश के साथ हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है।

मीडिया के मुताबिक- पूर्वी मध्य प्रदेश, दक्षिण-पूर्व राजस्थान, दक्षिण-पश्चिम एमपी, कोंकण और गोवा और गुजरात क्षेत्र के कुछ हिस्सों में भी हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है. इसके साथ ही पश्चिमी हिमालय, तेलंगाना और आंतरिक कर्नाटक में छिटपुट हल्की बारिश हो सकती है.

एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तर पश्चिमी बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश के आसपास के हिस्सों पर बना हुआ है. एक ट्रफ रेखा पंजाब से लेकर हरियाणा, उत्तर प्रदेश के उत्तरी भागों, उत्तर पश्चिमी बिहार और इससे सटे पूर्वी उत्तर प्रदेश, झारखंड और गंगीय पश्चिम बंगाल से होते हुए उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी तक जा रही है. चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बांग्लादेश के दक्षिण और इससे सटे उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ है. एक ट्रफ रेखा अब उत्तरी कर्नाटक से दक्षिण केरल तट तक फैली हुई है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक अगले सात दिनों के दौरान दिल्ली और राजस्थान, हरियाणा तथा पंजाब के कुछ हिस्सों में मानसून के आगे बढ़ने की संभावना नहीं है. आईएमडी ने एक बयान में कहा कि दक्षिण-पश्चिम मानसून अब तक राजस्थान, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के कुछ हिस्सों को छोड़कर देश के अधिकांश हिस्सों में आ चुका है. हालांकि अगले सात दिनों के दौरान देश के शेष हिस्सों में इसके और आगे बढ़ने की संभावना नहीं है।

मौसम विज्ञान के मुताबिक, पश्चिमी हवाएं कुछ दिनों से उत्तर-पश्चिम भारत के शेष हिस्सों में मानसून को आगे बढ़ने से रोक रही हैं. इनके कम से कम एक सप्ताह तक बने रहने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *