पंचायत समीक्षा

सरपंच और सचिव के खिलाफ मनमानी का आरोप…

गरियाबंद छत्तीसगढ़ प्रदेश

गरियाबंद।।कोपेरा के उपसरपंच समेत 4 पंचों ने सरपंच और सचिव के खिलाफ जिला कलेक्ट्रेट में शिकायत की है. उपसरपंच और पंचों ने सचिव और सरपंच पर कई आरोप लगाए हैं. लिखित शिकायत पत्र में सचिव और सरपंच पर मनमानी के आरोप लगाए हैं।

शिकायत में उपसरपंच और पंचों ने लिखा कि ग्राम पंचायत कोपरा में कार्य एजेंसी होने के बाद भी कई काम मैसर्स अजय कुमार साहू के नाम से किए जा रहे हैं. नाली निर्माण, अहाता निर्माण, आंगनबाड़ी जीर्णोद्धार, ग्राम पंचायत जीर्णोद्धार, चेंबर निर्माण, सैनिटाइजेशन, नाली की सफाई इस तरह के सभी कामों का बिल बढ़ा-चढ़ाकर शासन के लाखों रुपयों की बर्बादी की जा रही है. सरपंच सचिव को जब इसके लिए मना किया जाता है तब वह मीटिंग में वार्ड में कोई कार्य नहीं करवाने की धमकी देते हैं. मीटिंग में विवाद कर 7-8 बजे तक मीटिंग जारी रखते हुए प्रस्ताव में जगह छोड़कर हस्ताक्षर करवाया जाता है।

सचिव पर आरोप

उपसरपंच और पंचों ने आरोप लगाया कि ग्राम पंचायत कोपेरा के सचिव उत्तम साहू पक्षपात कर दबाव डालकर मनमानी कर रहे हैं. बदनाम करने के उद्देश्य से 2020 के नाली सफाई की मजदूरी की राशि 1 साल बाद अभी तक नहीं दी गई है. जबकि मजदूरों का खाता नंबर दिया जा चुका है. इसके बाद भी नाली सफाई की मजदूरी सरपंच पति के नाम पर भेजा गया. शिकायतकर्ताओं का कहना है कि पूर्व जिला पंचायत सीईओ ने स्पष्ट रूप से ग्राम पंचायत के कार्यों में महिला सरपंच के पति द्वारा किसी प्रकार का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं करने की बात कही थी. बावजूद इसके इस बड़े स्तर पर ग्राम पंचायत कोपरा में सरपंच पति के फर्म को भुगतान किया जा रहा है।

सरपंच पर लग रहे आरोपों पर कोपरा की सरपंच डाली साहू ने फोन पर कहा कि ‘ग्राम पंचायत के कार्यों का भुगतान काफी विलंब से होता है. कोई दूसरा उधारी इतने दिन सहने को तैयार नहीं होता. पिछले कार्यों का भुगतान जब अभी तक नहीं हुआ तो उन दुकानदारों ने उधार देना बंद कर दिया. जिस पर मेरे पति के दुकान से सामान लिया गया. मेरे पति के पास ट्रैक्टर है उससे काम करने पर उसका भुगतान किया गया. मेरे पति की मेडिकल भी है उससे 1 लाख 85 हजार का सैनिटाइजर खरीदा गया. नाली सफाई के भुगतान के विषय में उन्होंने कहा कि लोगों की शिकायत सफाई को लेकर थी जिस पर उन्होंने सफाई करवाई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *