पंचायत समीक्षा

सूरजपुर: शक्कर घोटाले की जांच टीम गठित..एक हफ्ते में टीम सौंपेगी रिपोर्ट…

छत्तीसगढ़ सरगुजा संभाग सूरजपुर

सूरजपुर।।प्रतापपुर के महामाया सहकारी शक्कर कारखाना के केरता गोदाम से पिछले दिनों लगभग ढाई करोड़ रुपये शक्कर गायब हुई थी. शिकायत पर पंजीयक सहकारी संस्था छत्तीसगढ़ के निर्देश पर पांच सदस्यीय जांच दल का गठन किया गया है. जांच दल एक हफ्ते के अंदर अपनी जांच रिपोर्ट उच्चाधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत करेगा।

8434 क्विंटल शक्कर चोरी का मामला

मां महामाया सहकारी शक्कर कारखाना केरता में पिछले दिनों संचालक मंडल के निर्देश पर गोदामों में रखे गए शक्कर बोरियों की गणना की गई थी. गणना दल ने अलग-अलग गोदामों की जांच करते हुए लगभग 8434 क्विंटल शक्कर की बोरी नहीं होने का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया था. जिसपर संचालक मंडल की ओर से तत्काल इसकी जानकारी उच्चाधिकारियों को दी गई थी. इतनी बड़ी मात्रा पर शक्कर की बोरी के गायब होने की सूचना पर हिमशिखर गुप्ता पंजीयक सहकारी संस्था छत्तीसगढ़ ने तत्काल मामले को गंभीरता से लेते हुए इसके लिए जांच दल का गठन करने का निर्देश दे दिया थे।

जीएम विजय उइके का हुआ स्थानांतरण

प्रदेश में सबसे ज्यादा शक्कर उत्पादन करने वाले केरता स्थित शक्कर कारखाने में बड़ा घोटाला सामने आया है. लगभग ढाई करोड़ के 8434 क्विंटल शक्कर की हेराफेरी के खुलासे में चीफ केमिस्ट और GM पर कार्रवाई की गई है. चीफ केमिस्ट को बर्खास्त कर दिया गया है. GM प्रशासनिक के खिलाफ वसूली व आपराधिक प्रकरण दर्ज करने के लिए उपपंजीयक सहकारी सेवा को पत्र लिखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *