CG अमानवीय घटना – जिंदा गाय को उफनती नदी में फेंका, तीन के खिलाफ केस दर्ज

जांजगीर चांपा: जांजगीर जिले के हसौद थाना क्षेत्र से दिल दहला देने वाला और मानवता को शर्मसार कर देने वाला वीडियो वायरल हुआ है. इस वीडियो को हसौद थाना के लाल माटी गांव के सोन नदी पुल का बताया जा रहा है, जिसमें कुछ लोग पुल के ऊपर बैठे मवेशियों को पकड़ने की कोशिश किया. पकड़े गए मवेशी के सभी पैर को बांध कर और मुंह को बोरे से ढक कर जीवित अवस्था में नदी के तेज बहाव में फेंकते हुए दिख रहा है. इस मामले में लाल माटी गांव के भाजयुमो कार्यकर्ता ने हसौद थाना में आरोपियों के नाम सहित रिपोर्ट दर्ज कराया है. हसौद पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए 3 आरोपियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कर लिया है.

वैसे तो हिंदू समाज गाय को गौ माता का रूप मानती है राज्य सरकार भी गाय के साथ अन्य मवेशियों को सुरक्षित रखने ने लिए गौठान बना कर करोड़ों रुपए खर्च कर रही है. लेकिन जांजगीर चांपा जिला के हसौद थाना क्षेत्र के लाल माटी गांव में मानवता को शर्मसार और पशु क्रूरता का मामला सामने आया है, जिसमे लाल माटी गांव के कुछ लोग शाम के वक्त सोन नदी के पुल में बैठे बेजुबानों पर अत्याचार कर रहे हैं और एक गाय पकड़ में आने पर उसके पैरो को बांध कर उसके मुंह को बोरे से ढककर सोन नदी के तेज बहाव में फेंक दिया.

इस पूरे घटना की पुल के ऊपर खड़े किसी व्यक्ति ने वीडियो बना कर वायरल कर दिया. इस घटना को देखने के बाद भाजयुमो के कार्यकर्ता शुभम जायसवाल ने आरोपियों की पहचान लाल माटी गांव के राहुल खूंटे, कमल किशोर खूंटे, किरण जटावर और कुलदीप के साथ अन्य लोगों की पहचान करते हुए हसौद थाना में आरोपियों के खिलाफ कारवाई के लिए लिखित आवेदन दिया. इस तरह मवेशियों पर क्रूरता करने वालो के खिलाफ सख्त कारवाई की मांग की है.

हसौद थाना प्रभारी हसौद ने कहा कि “आवेदक की रिपोर्ट पर पशु क्रूरता अधिनियम के तहत 3 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है. इसमें शामिल अन्य आरोपियों की पहचान में जुटी है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published.