स्नातक की छात्रा का बनाया न्यूड Video, फिर करने लगा ब्लैकमेल, दो आरोपी गिरफ्तार

बीएचयू स्नातक की छात्रा का न्यूड Video बनाने वाले दो साइबर अपराधियों को वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस ने झांसी से गिरफ्तार कर लिया है. आईपीएस अफसर बनकर जांच के नाम पर व्हाट्सएप कॉल करके छात्रा का न्यूड वीडियो बनाया गया था.

दोनों आरोपियों की पहचान झांसी के गुरसराय थाना के सरसेड़ा निवासी चंद्रपाल परिहार और उसके साथी सगरा निवासी मोहम्मद नासिर के रूप में हुई है. चंद्रपाल परिहार गिरोह का सरगना है. उसी ने खुद को आईपीएस अंकित गुप्ता बताया था. छात्रा को ब्लैकमेल करके रुपए उसने मो. नासिर के खाते में मंगवाए थे. इन दोनों ने बीएचयू की दो छात्राओं के साथ इस तरह की घिनौनी हरकत की है. पकड़े गए जालसाजों के अन्य जिलों में भी अपराध का पता लगाया जा रहा है

पीड़ित छात्रा ने पुलिस को बताया कि 11 सितंबर की रात उसे अनजान नंबर से वीडियो कॉल आई. कॉल करने वाले ने खुद को लखनऊ में तैनात आईपीएस अधिकारी अंकित गुप्ता बताया. उसकी डीपी में डीआईजी का लोगो लगा हुआ था. छात्रा को अरदब में लेते हुए कहा कि उसकी न्यूड Video व तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं. छात्रा ने जब अपनी वीडियो होने से इनकार किया तो जालसाज ने कहा इसकी जांच की जाएग

व्हाट्सअप कॉल कर बनाया न्यूड वीडियो

इसके लिए महिला पुलिस अधिकारी ऑनलाइन पड़ताल करेंगी. भावना, सुमन और गुड्डी नाम की तीन महिलाओं को मामले की जांच अधिकारी बताया. इन महिलाओं ने छात्रा को व्हाट्सअप कॉल कर वीडियो की जांच के नाम पर उसे न्यूड होने के लिए कहा. डरी सहमी छात्रा ने उनका कहना मान लिया. इसी दौरान छात्रा की अश्लील वीडियो व तस्वीरें बना ली गई. जांच के नाम पर डरा धमका कर 2400 रुपए ऑनलाइन ऐंठ लिए

अगले दिन उसके कुछ दोस्तों में वीडियो वायरल कर दिया गया. इसके बाद छात्रा ने बीएचयू प्रॉक्टोरियल बोर्ड व लंका थाने में शिकायत की थी. पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने कहा कि दोनों आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की जा रही है. चंद्रपाल और नासिर ने वाराणसी के अलावा और किन शहरों में ऐसे अपराध किए हैं, ये पता किया जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two + 14 =