Breaking जरा सा चूके और खाली हो जाएगा बैंक अकाउंट,5G के नाम पर हो रहा है स्कैम

भारत में 5G रोलआउट शुरू हो गया है और कई शहरों में यूजर्स को इसका फायदा मिलने लगा है। हालांकि, 5G ऐक्टिवेशन के नाम पर कई यूजर्स को स्कैम्स और फ्रॉड्स का शिकार बनाया जा रहा है और सतर्क रहना जरूरी है

भारत में इस महीने की शुरुआत में 5G सेवाएं लॉन्च होने के बाद टेलिकॉम कंपनियों की ओर से 5G रोलआउट शुरू हो गया है। भारती एयरटेल और रिलायंस जियो दोनों ही चुनिंदा शहरों में 5G रोलआउट शुरू कर चुके हैं। कई यूजर्स को 5G ऐक्टिवेशन के नाम पर फ्रॉड का शिकार बनाया जा रहा है और उनके अकाउंट्स खाली हो रहे हैं।

कई शहरों में पुलिस विभाग की ओर से चेतावनी जारी की गई है और स्मार्टफोन यूजर्स से सावधान रहने को कहा गया है। अगर आपसे भी कोई नंबर पर 5G ऐक्टिवेशन की बात कहते हुए जानकारी मांग रहा है तो सतर्क हो जाएं और अपनी जानकारी शेयर करने की गलती ना करें।

लिंक्स भेज रहे हैं स्कैम करने वाले लोग

हैदराबाद पुलिस ने ट्विटर पर लिखा है, “साइबर फ्रॉड करने वाले 5G के नाम पर लिंक्स भेज रहे हैं। अगर आप ये लिंक्स ओपेन करते हैं तो आपका फोन हैक होने का खतरा है। अगर आप सतर्क नहीं हैं तो आप खतरे में हैं और 4G सिम को 5G में अपग्रेड करने की बात कहकर अकाउंट खाली किए जा रहे हैं।”

अपनी जानकारी शेयर ना करें आप

ऐसी ही चेतावनी मुंबई पुलिस की ओर से भी दी गई है। पुलिस ने कहा है कि नई टेक्नोलॉजी के साथ नई तरह के स्कैमर्स भी तेजी से बढ़े हैं और 5G में सिम कन्वर्ट करने के नाम पर ठगी कर रहे हैं। अगर आपके शहर में 5G सेवाएं मिलने लगी हैं, तब भी आपको पर्सनल या बैकिंग डीटेल्स किसी के साथ शेयर करने की जरूरत नहीं है।

इन बातों का ध्यान रखना बेहद जरूरी

अगर आप 5G सेवाओं का इस्तेमाल शुरू करना चाहते हैं तो आपके पास कंपैटिबल 5G फोन होना जरूरी है। इसके अलावा अपना सिम अपग्रेड करने की आपको कोई जरूरत नहीं है। अगर आपके फोन पर 5G अपग्रेडेशन से जुड़ा कोई लिंक आता है तो उसपर क्लिक ना करें। टेलिकॉम ऑपरेटर्स की ओर से आने वाली कॉल पर भरोसा करने की गलती ना करें और OTP या बैंक डीटेल्स जैसी जानकारी किसी भी हालत में शेयर ना करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 − seven =