ब्रेकिंग – जिला अस्पताल में मरीज की मौतः रुपए लेने के बाद नहीं किया इलाज, परिजनों ने सड़क पर लगाया जाम, घटना के विरोध में अस्पताल स्टाफ ने किया काम बंद

मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी के गृह जिले में स्वास्थ्य सुविधाओं के नाम पर किस तरह लापरवाही की जा रही है। इसका उदाहरण जिला अस्पताल में देखने को मिला। जिला अस्पताल में सामान्य बुखार का इलाज कराने आए एक नौजवान युवक की मौत हो गई। मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल में हंगामा कर अस्पताल के बाहर विदिशा रायसेन रोड पर चक्का जाम कर दिया।

मृतक के परिजनों ने जिला अस्पताल में पदस्थ डॉ एमएल अहिरवार पर ₹1000 की रिश्वत लेने के बाद भी इलाज में लापरवाही का आरोप लगाया है। परिजनों का कहना है कि समय पर इलाज नहीं मिलने से युवक की मौत हो गई। इधर घटना के बाद सभी डॉक्टर एवं नर्सिंग स्टाफ हड़ताल पर चले गए। जिससे जिला अस्पताल में अव्यवस्था का माहौल बन गया।

आनन-फानन में सीएमएचओ डॉ दिनेश खत्री ने सभी डॉक्टरों और स्टाफ से मीटिंग कर स्टाफ के साथ हुई अभद्रता पर कार्रवाई कराने का आश्वासन दिया और हड़ताल खत्म कराने के निर्देश दिए। जानकारी रूपेश गौर, मृतक का भाई और मिथलेश श्रीवास, स्थानीय नागरिक ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ten − 7 =