अंबेडकर हॉस्पिटल के डॉक्टर से की गई 92 लाखों रुपए की ठगी, एक के दो कराने वाले चक्कर में फसी, जाने क्या है पूरा मामला

आंबडकर अस्पताल में पदस्थ डाक्टर से 92.45 लाख रुपये की ठगी का मामला सामने आया है। शेयर मार्केट में राशि निवेश कराकर दोगुना मुनाफा देने का झांसा देकर दंपती ने ठगा है।

पीड़िता की शिकायत पर मौदहापारा थाने की पुलिस जांच-पड़ताल में जुट गई है।

शिकायतकर्ता डा. झरना साहू ने पुलिस को बताया है कि आंबेडकर अस्पताल के फार्मा डिपार्टमेंट में पदस्थ डा. सुनीता निम्बालकर से पूर्व से परिचित थीं। वर्ष-2018 में डा. सुनीता निम्बालकर के माध्यम से ओम कांप्लेक्स, फाफाडीह में राकेश भभूतमल जैन और उनकी पत्नी शीतल जैन से मिली थीं। दंपती ने अपने आप को सीए बताया था। डा. सुनीता ने बताया था कि वो शेयर मार्केट में जैन दंपती के कहने पर राशि निवेश करती हैं और उन्हें मुनाफा मिलता है।

उन्होंने दंपती से शेयर बाजार के बारे में पूछा। जैन दंपती ने झांसे में लेकर उनसे किश्तों में 35 लाख 50 हजार रुपए लिएा। कुछ दिनों बाद राकेश ने फिर से पांच लाख रुपए लिए। कुछ दिनों बाद दंपती ने अच्छी स्कीम का झांसा देकर अलग-अलग बैंकों से 95 लाख 81 हजार 728 रुपए का लोन दिला दिया। लोन प्रोसेस फीस काटकर उनके खाते में 74 लाख 13 हजार 85 रुपए आए। इस राशि को दंपती ने अपने खाते से ट्रांसफर कर लिया।

पढ़ाई के लिए चली गई मुंबई

पीड़िता ने पुलिस को बताया है कि वह पढ़ाई के लिए मुंबई चली गई तो आरोपी ने राशि देना बंद कर दिया। काल करने पर रिसिव करना बंद कर दिया। रायपुर वापस आने पर उन्होंने डा. सुनीता निम्बालकर से आपबीती बताई। डा. सुनीता ने दंपती द्वारा राशि लेकर फरार होने की जानकारी दी।

शेयर मार्केट में ठगी की ये कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले भी आरडीए के सेवानिवृत एक अधिकारी को एक अन्य ठग ने लगभग 60 लाख का चूना लगाया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 19 =