Breaking – मोबाइल चोरी के शक में दी तालिबानी सजा, भीड़ ने लोडिंग वैन से बांधकर नाबालिकों को घसीटा

मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर धीरे-धीरे अपराध का गढ़ बनती जा रही है। यहां कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद भी जुर्म कम नहीं हो रहें हैं। लेकिन कई बार ऐसा होता है कि पुलिस की सजा पहले ही जनता कुछ बदमाशों को खुद से सजा दे देती हैं। ऐसा ही कुछ यहां देखने को मिला। मोबाइल और पर्स चोरी को लेकर दो नाबालिगों को ऐसी सजा दी गई है, जिसने मानवता की सारी हदें पार कर दी है। शहर में चोरी के शक में लड़कों को गाड़ी से बांधकर घसीटे जाने का मामला सामने आया है।

दरअसल इंदौर में दो नाबालिगों को मोबाइल चोरी और पर्स चोरी के शक में लोगों द्वारा गाड़ी से बांधकर घसीता गया है। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद शहर की राजेंद्र नगर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है। यह पूरा मामला शहर की चोइथराम सब्जी मंडी का है और वीडियो की पुष्टि हो चुकी है। पुलिस ने दोनों नाबिलिगों को पकड़ लिया है। दोनों नाबालिगों में से एक की उम्र 13 साल और दूसरे की 17 साल बताई गई है। इस पूरे मामले को लेकर पुलिस के बताया कि यह घटना चोइथराम सब्जी मंडी के गेट नंबर दो का है। शनिवार सुबह करीब सात बजे हुई इस घटना के तहत काटकूट का एक व्यापारी चोइथराम मंडी में आलू-प्याज का ट्रक लेकर पहुंचा। उसके वहां पहुंचते ही एक नाबालिग ट्रक में से मोबाइल और दस हजार रुपये चुराकर गायब हो गया।

इसके बाद उसने दूसरे को ट्रक से कुछ और सामान चुराने के इरादे से वहां भेजा। लेकिन जब दूसरा नाबालिग वहां पहुंचा तो लोगों ने उसे पकड़ लिया और उससे पूछताछ के बाद उसके साथी को भी वहां बुलाया। जहां भीड़ ने की दोनों की खूब पिटाई की। जानकारी के अनुसार वहां मौजूद भीड़ ने सबसे पहले दोनों नाबालिगों की जमकर पिटाई की और इसके बाद दोनों को लोडिंग रिक्शा से बांधकर मंड़ी की सड़क पर घसीटा। फिर पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने फिलहाल दोनों को हिरासत में ले लिया है। अब पुलिस उन लोगों की भी तलाश कर रही है, जिन्होंने इन नाबालिगों के साथ बर्बतापूर्वक व्यवहार किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − four =