CG ब्रेकिंग – धान खरीदी शुरू होने से पहले अवकाश पर गए कर्मचारी, मांगे नहीं मानने पर सामूहिक हड़ताल की चेतावनी

सहकारी समिति के कर्मचारियों का स्थानांतरण कर दिया गया है, कर्मचारियों को दूसरे समितियों में भेज दिया गया है जिसके चलते सहकारी समिति के प्रबंधक कंप्यूटर ऑपरेटर एवं अन्य सहयोगी कर्मचारी अवकाश पर चले गए हैं

बिलासपुर। एक नवंबर से पूरे छत्तीसगढ़ में धान खरीदी की शुरुआत किया जाना है, जिसको लेकर शासन प्रशासन ने तैयारी तो कर ली है लेकिन गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के सहकारी समिति कर्मचारी महासंघ के मंडी प्रभारी सहित कंप्यूटर ऑपरेटर कर्मचारी सामूहिक रूप से तीन दिवसीय अवकाश पर चले गए हैं। जिसके चलते कल 1 नवंबर से शुरू हो रहे धान खरीदी पर इसका असर दिखाई देने लगा है।

दरअसल सहकारी समिति के कर्मचारियों का स्थानांतरण कर दिया गया है, कर्मचारियों को दूसरे समितियों में भेज दिया गया है जिसके चलते सहकारी समिति के प्रबंधक कंप्यूटर ऑपरेटर एवं अन्य सहयोगी कर्मचारी अवकाश पर चले गए हैं, और सहकारी समिति के कर्मचारियों का कहना है कि अगर उनका स्थानांतरण नहीं रोका गया या वह जिस समिति में काम करते थे वहां उनको यथावत नहीं रखा गया तो सहकारी समिति के सभी कर्मचारी सामूहिक हड़ताल पर चले जाएंगे।

मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ सीमा पर अवैध रूप से धान का परिवहन

Dhan kharidi chhattisgarh : इधर बिलासपुर में छत्तीसगढ़ में धान खरीदी 1 नवम्बर से शुरू हो रही है ऐसे में अन्य राज्यों से धान छत्तीसगढ़ लाकर खपाया जाता रहा है जिसे रोकने के लिए ही जिले की सीमावर्ती इलाकों में 7 अलग अलग गाँवो में चेकपोस्ट बनाया गया है, चेकपोस्ट में जांच के दौरान ही मध्यप्रदेश छत्तीसगढ़ सीमा पर अवैध रूप से धान का परिवहन करते हुए राजस्व विभाग की टीम द्वारा ट्रक जब्त किया गया है।

बता दें कि ट्रक में साढ़े 4 लाख कीमत से अधिक का 250 क्विंटल से ज्यादा धान भरा हुआ था। धान को नागपुर से ओडिसा ले जाने की बात चालक द्वारा जांच टीम को बताया गया लेकिन धान परिवहन से सम्बंधित जरुरी दस्तावेज नहीं दिखा पाए। दस्तावेज नहीं होने पर धान को जब्ती की कार्यवाही की गई। मामले की जांच राजस्व विभाग द्वारा की जारी रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 + fifteen =