ब्रेकिंग – 6वीं की छात्रा के साथ शिक्षक ने किया घिनौना काम, 10 रुपए और मिठाई देकर किया मुंह बंद, फिर जो हुआ…तत्काल शिक्षक सस्पेंड FIR दर्ज..

6वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा को सहायक अध्यापक ने झाड़ू लगाने के बहाने कमरे में बुलाया और झाड़ू लगाती छात्रा को पीछे से पकड़कर गलत तरीके से छुने लगा। खुद के साथ हुए इस व्यवहार पर छात्रा सहम गई और रोने लगीष जिसके बाद आरोपी भी डर गया और पकड़े जाने के डर से छात्रा को 10 रुपए और मिठाई देकर चुप करा दिया।

उत्तर प्रदेश। शिक्षा का मंदिर भी आजकल बेचियों के लिए सुरक्षित नहीं है। हाल ही में गुरु-शिष्य के रिश्ते को शर्मसार करने का एक और मामला सामने आया है। सूचना मिली है कि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली नाबालिग छात्रा से टीचर ने गंदी हरकत कर दी। वहीं छात्रा का मुंह बंद रखने के लिए आरोपी शिक्षक ने 10 रुपये और मिठाई देकर चुप रहने को कहा। हालांकि छात्रा ने अपने परिवार कोइस मामले कि जानकारी दी जिसके बाद पीड़ित छात्रा के परिजनों ने जमकर हंगामा किया। वहीं आरोपी शिक्षक को सस्पेंड कर दिया गया।

झाड़ू लगाने के बहाने कमरे में बुलाया

– दरअसल, ये घटना उत्तर प्रदेश के सदर विकास खण्ड के एक उच्च प्राथमिक विद्यालय की है। दिवाली की छुट्टियां खत्म होने के बाद सारे स्कूल खोले गए है, इसी बीच 6वीं क्लास में पढ़ने वाली छात्रा को सहायक अध्यापक ने झाड़ू लगाने के बहाने कमरे में बुलाया और झाड़ू लगाती छात्रा को पीछे से पकड़कर गलत तरीके से छुने लगा। खुद के साथ हुए इस व्यवहार पर छात्रा सहम गई और रोने लगीष जिसके बाद आरोपी भी डर गया और पकड़े जाने के डर से छात्रा को 10 रुपए और मिठाई देकर चुप करा दिया। साथ ही छात्रा से बोलने लगा कि यह बात किसी को नहीं बताना, हालांकि छात्रा ने अपने साथ हुए गलत व्यवहार की बात परिजनों को बता दी जिसके बाद शिक्षक बात को नकारने लगा।

शिकायत करने पर नकारने लगा शिक्षक

– शिक्षक के बात नकारने पर परिजनों ने जमकर हंगामा किया, जिसके बाद स्कूल प्रिंसिपल ने तुरंत ही हंगामे की जानकारी बीएसए और बीईओ को दी। 28 अक्टूबर को ही टीम छात्रा के घर पहुंची। जिसके बाद छात्रा की मां ने बेटी के साथ हुई गलत हरकत की जानकारी टीम को दी। मामले की गंभीरता को देखते हुए बेसिक शिक्षा अधिकारी ने आरोपी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eighteen − ten =