ब्रेकिंग – स्कूल के पैसों को फर्जी बिल लगाकर किया गबन, दो प्रिंसिपल समेत चार गिरफ्तार, जानिए पूरा मामला…

गुरदासपुर – पंजाब के गुरदासपुर में भागोवाल के सरकारी गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल में झोलझाल का मामला सामने आया हैं, राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान के तहत प्राप्त 10.01 लाख रुपये की ग्रांट को गबन करने के आरोप में पंजाब विजिलेंस ब्यूरो ने मंगलवार को सरकारी स्कूल के दो प्रिंसिपल समेत चार लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान राकेश गुप्ता, रामपाल, जतिंदर कुमार और मुकेश महाजन के तौर पर हुई है।

राकेश वर्तमान में गुरदासपुर में भागोवाल के सरकारी गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल के प्रिंसिपल पद पर तैनात है, जबकि रामपाल पठानकोट के कैथलोर में सरकारी स्कूल का प्रिंसिपल है। जांच में पता चला कि राकेश और रामपाल जब गुरदासपुर स्थित शासकीय सेवाकालीन प्रशिक्षण केंद्र में तैनात थे तो उस दौरान शिक्षा अभियान के तहत करीब 10 लाख रुपये का अनुदान मिला था। दोनों ने जतिंदर और मुकेश की मिलीभगत से फंड हड़पने के लिए फर्जी फर्मों के बिल तैयार किए

आरोपियों ने सरकारी धन को अपने निजी बैंक खातों में स्थानांतरित किया। कृष्णा टेंट हाउस के मालिक जतिंदर कुमार और सिग्मा डेकोरेट नाम की फर्म के मालिक मुकेश महाजन के विरुद्ध भी लुधियाना में मामला दर्ज किया गया है।

मामले की जांच के दौरान पाया गया कि इन-सर्विस ट्रेनिंग सेंटर गुरदासपुर को रमसा योजना के तहत ग्रांट दी गई थी। उक्त स्कीम के अंतर्गत प्रिंसिपल राकेश गुप्ता और लेक्चरर रामपाल ने आपस में मिलकर फंड हड़पने के लिए फर्जी फर्मों के जाली बिल तैयार किए। जांच में पाया गया कि सभी ने फंडों का दुरुपयोग किया है। अब ब्यूरो ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 − 2 =