छत्तीसगढ़ से कांग्रेस के 3 राज्यसभा सांसदों के बीजेपी ने लगाए लापता होने का पोस्टर, कांग्रेस ने किया पलटवार ?

रायपुर – छत्तीसगढ़ भाजपा ने कांग्रेस के तीन राज्यसभा सदस्यों का पोस्टर इंटरनेट मीडिया पर प्रसारित किया तो इसे लेकर सियासी हलचल बढ़ गई है। दरअसल, भाजपा ने राज्यसभा सदस्य रंजीता रंजन, केटीएस तुलसी और राजीव शुक्ला की फोटो लगे हुए पोस्टर को प्रसारित करके इनके राज्योत्सव कार्यक्रम से लापता होने का जिक्र किया है। इसे लेकर भाजपा-कांग्रेस के नेता आमने सामने हैं। कांग्रेस ने कहा कि छत्तीसगढ़ महतारी पर प्रश्न उठाया और अब भाजपा ध्यान भटकाने के लिए इस तरह के पोस्टर लगा रही है।

कांग्रेस ने राजनैतिक नौटंकी करार दिया

भाजपा की ओर से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्यों के पोस्टर जारी किए जाने को कांग्रेस ने पलटवार करते हुए राजनैतिक नौटंकी करार दिया है। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा के प्रभारी नितिन नबीन ने जो छत्तीसगढ़ महतारी का अपमान किया है और छत्तीसगढ़िया स्वाभिमान का मखौल उड़ाया है, उससे जनता का ध्यान हटाने और अपने प्रभारी के छत्तीसगढ़ विरोधी चरित्र को छुपाने के लिए भाजपा, कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों का पोस्टर जारी कर रही है

भाजपा को कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों के पोस्टर के बजाय भाजपा के नौ सांसदों का पोस्टर जारी करना चाहिए। क्या छत्तीसगढ़ भारत से बाहर है। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस पर राज्य के लोगों को बधाई नहीं दी। क्या भाजपाई इसके लिए प्रधानमंत्री से माफी मांगने को कहेंगे? सुशील आनंद शुक्ला ने प्रश्न पूछा कि भाजपा बताए कि उसके छत्तीसगढ़ से लोकसभा से नौ सांसद है जो सीधे जनता द्वारा चुने गये है।

इन नौ सांसदों में से कितने सांसद राज्योत्सव मेले में भाग लेने आये थे? राज्योत्सव तो छत्तीसगढ़ के लोगों का अपना उत्सव था। राज्योत्सव में आदिवासी संस्कृति और छत्तीसगढ़ की लोक संस्कृ ति की छटा बिखर रही थी। फिर राज्य के नौ भाजपाई सांसदों को राज्योत्सव से परहेज क्यों? भाजपा बताए कि उसके नौ सांसदों ने कितनी बार छत्तीसगढ़ के लोगों की आवाज केंद्र सरकार के समक्ष बुलंद की।

बाहर से राज्यसभा सदस्य बनाकर कांग्रेस ने किया अपमान: संतोष पांडेय

भाजपा के वरिष्ठ नेता व राजनांदगांव से लोकसभा सांसद संतोष पांडे ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की सरकार के लिए छत्तीसगढ़ महतारी का नहीं सोनिया महतारी का आदेश सर्वोपरि है। इसलिए ही छत्तीसगढ़ महतारी की कोख को शर्मसार करते हुए छत्तीसगढ़ के बाहर से राज्यसभा के सांसद बनाए गए।

पांडेय ने कहा कि हमने तो छत्तीसगढ़ के स्थापना दिवस पर गौरव दिवस मनाया है। घरों में दीप प्रज्वलित किए, छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण करने के लिए पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी को धन्यवाद दिया है, हम सांसदों ने तो आपको महज तीन साल में केंद्र सरकार से एक लाख 40 हजार करोड रुपये दिलवाए हैं।

भाजपा, कांग्रेस की तरह नफरत की राजनीति नहीं करती। अटल जी को यह मालूम था कि छत्तीसगढ़ राज्य बनाने पर सत्ता हासिल नहीं होगी, तो भी राज्य बनाया और आज मोदी जी को भी यह मालूम है कि राज्य में भाजपा की सरकार नहीं है तो भी उन्होंने इतने पैसे केंद्र से राज्य को दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

sixteen − 7 =