ब्रेकिंग – पूर्व मुख्यमंत्री ने लिया अज्ञातवास में जाने का फैसला, शराबबंदी पर नहीं मिला अपनेhही BJP पार्टी का साथ

पूर्व मुख्यमंत्री को शराबबंदी पर बीजेपी का साथ नहीं मिला। जिसके बाद नाराज नेता उमा भारती ने अज्ञातवास जाने का फैसला ले लिया है। उन्होने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

भोपाल। मध्यप्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती का दर्द एक बार फिर छलक उठा है, पूर्व मुख्यमंत्री को शराबबंदी पर बीजेपी का साथ नहीं मिला। जिसके बाद नाराज नेता उमा भारती ने अज्ञातवास जाने का फैसला ले लिया है। उन्होने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी है।

मध्यप्रदेश की पूर्व सीएम और फायर ब्रांड भाजपा नेता साध्वी उमा भारती की पीड़ा आखिरकार सामने आ ही गई। उमाभारती ने ट्वीट कर अपना दर्द बया किया है, उन्होंने कहा है कि वे अब अज्ञातवास में रहेंगी। उन्होंने कहा कि अमरकंटक के आसपास अज्ञातवास में रहूंगी। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शराबबंदी अभियान में भगवान और जनता का साथ रहा लेकिन भाजपा मेरे इन दोनों अभियानों के प्रति तटस्थ रही। मामला गंभीर है और इस पर अब 8 दिसंबर के बाद संवाद करेंगे।

7 नवंबर से शराबबंदी की मांग के लिए अभियान

मध्य प्रदेश में शराबबंदी (Liquor Ban In MP) की मांग पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती (Uma Bharti) अक्सर करती रही हैं, बयान से सरकार को असहज में डालनेवाली उमा भारती ने शुक्रवार को भोपाल में प्रेस वार्ता करते सभी को चौंका दिया था, उमा भारती ने 7 नवंबर से शराबबंदी की मांग के लिए अभियान शुरू करने का एलान किया था, उन्होंने बताया कि अगले साल 14 जनवरी यानी संक्रांति तक शराबबंदी अभियान चलेगा। उन्होंने अभियान के दौरान घर भी नहीं जाने की घोषणा की थी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − eight =