CG ब्रेकिंग – गौठान के मुद्दे पर एक्शन मोड में नजर आये कलेक्टर ने कहा गौठानों में लापरवाही पर जनपद सीईओ व विस्तार अधिकारी को नोटिस जारी करने व वरिष्ठ कृषि अधिकारी का वेतन रोकने को कलेक्टर ने दिया निर्देश

जशपुर। कलेक्टर डॉ. रवि मित्तल ने कलेक्टोरेट सभाकक्ष में गोधन न्याय योजना की समीक्षा ली। उन्होंने गौठानो में नियमित रूप से गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट निर्माण, खाद विक्रय उपसंचालक कृषि विभाग, समस्त जनपद सीईओ, सीएमओ नगरीय निकाय एवं पशुपालन, सहकारी समिति, नोडल अधिकारी अपेक्स बैंक, वरिष्ठ ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे।

कलेक्टर ने सभी जनपद सीईओ और ग्रामीण विस्तार अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा कि जिले के सभी गौठानों में गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाने में तेजी, खाद की छनाई और सोसायटी के माध्यम से खाद विक्रय में प्रगति लाने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि कोई भी जनपद सीईओ और ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी कार्य में लापरवाही बरतेगें तो कड़ी कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा कि गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी योजना में शामिल हैं। इसमें किसी भी तरह की लापरवाही नहीं चलेगी।

समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने मनोरा के जनपद सीईओ अनिल तिवारी और वरिष्ट कृषि विस्तार अधिकारी श्री सुखनाथ मरावी के प्रति नाराजगी जाहिर करते हुए नोटिस जारी करने और मनोरा एसीडीओ के वेतन रोकने के निर्देश दिए है। मनोरा जनपद सीईओ और एसीडीओ द्वारा गोबर खरीदी,खाद बनाने में धीमी प्रगति,सोसायटी के माध्यम से खाद विक्रय में रूचि नहीं लेने के कारण कलेक्टर ने गहरी नाराजगी व्यक्ति की है। उन्होंने कहा कि खाद बनाने के लिए कम लागत के वर्मी वेड या भू-नाबेड तैयार करके गोबर डालने के लिए कहा है और कैचुवा डाल कर वर्मी कम्पोस्ट खाद तैयार करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान गौठानों के बाहार गोबर खुले में पाया गया तो संबंधित एसीडीओ पर कार्यवाही होगी। उन्होंने जनपद सीईओ को अवगत कराते हुए कहा कि गौठानों में समूह की महिलाएं अपने रूचि के अनुसार गतिविधियॉ करना चाह रही हैं तो उनको प्राथमिकता दें।

कलेक्टर ने नगरीय निकाय के अधिकारियों को भी खाद बनाने में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। खाद की ऑनलाईन एंट्री भी प्राथमिकता से करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि कोतबा और बगीचा को और मेहनत करने की आवश्यकता है। सभी जनपद सीईओ को गौठानों में पैरा दान करने के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए हैं साथ ही खाद विक्रय के भुगतान की भी जानकारी ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − 7 =