ब्रेकिंग – टी20 सेमीफाइनल मैच में इंग्लैंड ने भारत को 10 विकेट से हराया, वर्ल्ड कप का सपना टूटा.. रोहित शर्मा को कप्तानी से हटाने के लिए तेज़ हुई मांग

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में भारत का सफर खत्म हो गया है. इंग्लैंड ने दूसरे सेमीफाइनल में भारत को बुरी तरह मात दी है. एलेक्स हेल्स और जोस बटलर के आगे टीम इंडिया की बॉलिंग यूनिट ने घुटने टेक दिए और भारत को एक बुरी हार झेलनी पड़ी है. भारत ने इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 168 का स्कोर बनाया था, जवाब में इंग्लैंड ने बेहद ही आसानी से इस लक्ष्य को हासिल कर लिया है. इंग्लैंड ने इस पारी में एक भी विकेट नहीं गिरने दिया, जो बताता है कि किस तरह भारतीय बॉलर ने घुटने टेक दिए. इंग्लैंड की ओर से एलेक्स हेल्स ने 47 बॉल में 86 रन बनाए, जबकि कप्तान जोस बटलर ने 49 बॉल में 80 रन बनाए. इंग्लैंड ने 169 रनों के टारगेट को सिर्फ 16 ओवर में हासिल कर लिया. सुपर-12 मुकाबले के दौरान भारतीय टीम ने जिस तरह का खेल दिखाया था, उससे उम्मीद बनी थी कि वह जरूर इस बार टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीतकर 15 साल के सूखे को खत्म करेगी. खास बात यह है कि भारतीय टीम अपने ग्रुप में टॉप पर सेमीफाइनल में पहुंची थी. लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ टीम के प्रदर्शन ने सवा सौ करोड़ भारतीय फैन्स का दिल तोड़कर रख दिया है. भारत ने टी20 वर्ल्ड कप में अपने अभियान की शुरुआत 23 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से की थी. मेलबर्न में आयोजित उस मैच में भारत ने पाकिस्तान टीम को 4 विकेट से पराजित किया था. इस जीत में विराट कोहली का अहम किरदार था. विराट कोहली 53 गेंदों का सामना करते हुए कुल छह चौकों और चार छक्कों की मदद से नाबाद 82 रनों की अद्भुत पारी खेली. इसके बाद भारतीय टीम ने कमजोर नीदरलैंड को 56 रनों से पराजित कर लगातार दूसरी जीत हासिल की. रोहित ब्रिगेड लगातार दो जीत के बाद पर्थ पहुंची थी, जहां उसका मुकाबला साउथ अफ्रीका से हुआ. हालांकि भारत का इस मैच में प्रदर्शन काफी खराब रहा और उसे 5 विकेट से हार झेलनी पड़ी. एनगिडी (चार विकेट) और वेन पार्नेल (तीन विकेट) की कहर बरपाती गेंदों के चलते भारतीय टीम 133 रनों तक ही पहुंच पाई. जवाब में साउथ अफ्रीका ने एडेन मार्करम और डेविड मिलर के शानदार प्रदर्शन की बदौलत मुकाबला अपने नाम कर लिया. साउथ अफ्रीका से हार के बाद ही भारत को पूरी तरह सबक लेना चाहिए था, लेकिन वह देखने को नहीं मिला. टीम इंडिया का अगला मैच बांग्लादेश से हुआ, जहां वह गिरते-पड़ते किसी तरह जीत हासिल कर पाई. बांग्लादेश के खिलाफ उस मैच में भारत ने 6 विकेट पर 184 रनों का स्कोर खड़ा किया था. जवाब में बारिश के चलते बांग्लादेश को 16 ओवरों में 151 रनों का संशोधित टारगेट मिला था, लेकिन वह लिटन दास (60 रन) की तूफानी पारी के बावजूद छह विकेट पर 145 रन ही बना पाई थी. भारत ने इसके बाद अपने आखिरी ग्रुप में जिम्बाब्वे को 71 रनों से पराजित किया. एमसीजी में खेले गए मुकाबले में भारत ने पहले बैटिंग करते हुए पांच विकेट पर 186 रन बनाए. जवाब में जिम्बाब्वे की टीम 17.2 ओवरों में 115 रन पर सिमट गई थी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eleven − three =