सेंट्रल जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट पर बड़ा एक्शन, हुए गिरफ्तार

फिरोजपुर: फिरोजपुर सेंट्रल जेल के डिप्टी सुपरिटेंडेंट गुरुचरण सिंह धालीवाल को पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उन पर जेल में गैंगस्टरों, आंतकवादियों और नशा तस्करों को मोबाइल फोन उपलब्ध करवाने का आरोप है. इसके बदले में बड़े पैमाने पर पैसे वसूलने का भी उन पर आरोप लगा है.
मामले में कार्रवाई करते हुए फिरोजपुर पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है. फिरोजपुर थाना सिटी में मामला दर्ज किया गया है. बताया जा रहा है कि थाना सिटी फिरोजपुर की पुलिस टीम एसएचओ इंस्पेक्टर मोहित धवन के नेतृत्व में गश्त कर रही थी.
संदिग्ध व्यक्तियों की चेकिंग करते हुए टीम जब बगदादी गेट फिरोजपुर शहर के एरिया में पहुंची, तो उन्हें गुप्त सूचना मिली कि केंद्रीय जेल फिरोजपुर का डीएसपी गुरचरण सिंह धालीवाल जेल में अपने स्टाफ के साथ मिलकर हवालातियों और कैदियों को बड़े स्तर पर मोबाइल फोन, सिम और नशा उपलब्ध करवाता है.
जेल के बाहर से नशा तस्करों से नशीला पदार्थ मंगवाकर अपने स्टाफ के द्वारा और खुद जेल के अंदर जाकर कैदियों को वह ये चीजें देता है. अब भी केंद्रीय जेल फिरोजपुर में हवालातियों और कैदियों द्वारा मोबाइल नंबर 96466 85719 और 9914187049 जेल के अंदर से इस्तेमाल किए जा रहे हैं.
पुलिस को यह भी सूचना भी मिली कि डीएसपी गुरचरण सिंह धारीवाल केंद्रीय जेल फिरोजपुर के अंदर बड़े पैमाने पर मोबाइल और नशीले पदार्थ लाने की प्लानिंग कर रहा है. गैंगस्टरों, आंतकवादियों और नशा तस्करों के साथ मिलकर बाहर के प्रांतों से ड्रोन के जरिये बॉर्डर क्रॉस करके ये सामान लाए जाने हैं.
पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को मिली जानकारी के अनुसार, 20-25 दिन पहले डीएसपी गुरुचरण सिंह धालीवाल ने जेल के हाई सिक्योरिटी जोन में बंद कैदियों, गैंगस्टरों और नशा तस्करों को 5 मोबाइल फोन उपलब्ध करवाए थे. इसके बदले में उन्होंने बड़े स्तर पर पैसे लिए थे.
एसपीडी गुरमित सिंह चीमा ने कहा की केंद्रीय जेल फिरोजपुर के डिप्टी सुपरिटेंडेंट डीएसपी गुरचरण सिंह धालीवाल को गिरफ्तार किया गया है. अभी मामले की जांच चल रही है. ज्यादा जानकारी आगे दी जाएंगी. आरोप है कि उन्होंने कैदियों, गैंगस्टरों और नशा तस्करों फोन उपलब्ध करवाए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × 1 =