“राष्ट्रपति कैसी दिखतीं हैं?” विवादित बयान पर मंत्री ने मांगी माफी, जानिए पूरा मामला… 

भाजपाइयों के विरोध के बाद TMC के मंत्री अखिल गिरि की तरफ से राष्ट्रपति द्रौपति मुर्मू पर दिए गए बयान पर मंत्री ने माफी मांग ली है। टीएमसी सांसद शांतनु सेन ने कहा कि पार्टी इस बयान का समर्थन नहीं करती है। टीएमसी के पास भारत के संविधान और राष्ट्रपति के लिए एक इज्जत है। ममता बनर्जी महिला सशक्तिकरण की प्रतीक हैं, इसलिए इस तरह की टिप्पणी का समर्थन करने का सवाल ही नहीं उठता। मंत्री को अपनी गलती का एहसास हुआ है और उन्होंने सोशल मीडिया पर माफी मांग ली है।

मंत्री अखिल गिरि का विवादित बयान

दरअसल, टीएमसी के मंत्री अखिल गिरि शुक्रवार को शहीद दिवस समारोह में एक कार्यक्रम को संबोधित करने गए थे। इस दौरान उन्होंने विपक्ष के नेता सुवेंदु अधिकारी की तरफ से पूर्व में उनको लेकर दिए बयान पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि उन्होंने कहा कि अधिकारी कहते हैं कि मैं सुंदर नहीं हूं। ऐसे में वे ही बताए कि वह कितने सुंदर हैं? हालांकि, अखिल गिरि यही नहीं रुके उन्होंने कहा कि हम किसी के बनावट से किसी को जज नहीं करते हैं। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रपति मुर्मू पर टिप्पणी कर दी। उन्होंने कहा कि हम भारत के राष्ट्रपति का सम्मान करते हैं, लेकिन आप ही बताइए वे कैसी दिखतीं हैं?

 

भाजपा ने किया विरोध

टीएमसी मंत्री अखिल गिरि के इस बयान को भाजपा ने गलत बताया। भाजपा ने कहा कि राष्ट्रपति मुर्मू एक आदिवासी हैं। जिस तरह से टीएमसी के मंत्री की तरफ से बयान दिया गया है वह राष्ट्रपति पद को अपमानित करने वाला है। साथ ही भाजपा ने कहा कि इस बयान से पता चलता है कि पार्टी में आदिवासी समुदाय की इज्जत नहीं होती है।

भाजपा के विरोध से मंत्री ने मांगी माफी

भाजपा के विरोध के बयान से निखिल गिरी पलट गए। उन्होंने कहा कि मैं राष्ट्रपति का सम्मान करता हूं। मैंने ये बयान सुवेंदु अधिकारी को जवाब देने के लिए तुलना की थी। मैंने कोई नाम नहीं लिया। इसके अलावा उन्होंने कहा कि अगर भारत की राष्ट्रपति इससे अपमानित महसूस करती हैं, तो मैंने जो कहा, उसके लिए मुझे खेद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × four =