आतंकियों की धमकी के बाद पांच पत्रकारों का इस्तीफा, सेना की मुखबिरी का लगा रहे थे आरोप

आतंकियों से मिल रही लगातार धमकियों के चलते पांच कश्मीरी पत्रकारों ने इस्तीफा दे दिया है। इन पत्रकारों को लश्कर-ए-तैयबा और उसके सहयोगी द रेजिस्टेंस फ्रंट (TRF) की ओर से जान से मारने की धमकी दी जा रही थी।

आतंकी संगठन इन पत्रकारों को लेकर आरोप लगा रहे थे कि ये सेना के एजेंट हैं और सुरक्षा बलों के मुखबिर के तौर पर काम करते हैं।

पुलिस के मुताबिक श्रीनगर के शेरगारी पुलिस स्टेशन में लश्कर और टीआरएफ के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने यह एफआईआर गैरकानूनी गतिविधि अधिनियम के तहत कश्मीर के स्थानीय पत्रकारों को ऑनलाइन प्रकाशन के संबंध में गलत ठहराए जाने को लेकर दर्ज की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − 16 =