मंगल मार्गी 2023: 13 जनवरी से मार्गी हो जाएगा मंगल, ये 4 राशि वाले रहें सावधान…

ग्रहों के सेनापति मंगल वृषभ राशि में मार्गी होने वाले हैं. इसके बाद मंगल 30 अक्टूबर तक मार्गी ही रहेंगे. ज्योतिष शास्त्र में किसी ग्रह के मार्गी होने का मतलब उसकी सीधी चाल से है. यदि कुंडली में मंगल की स्थिति कमजोर हो तो व्यक्ति को जीवन में कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है.

मंगल मार्गी 2023।। 13 जनवरी को ग्रहों के सेनापति मंगल वृषभ राशि में मार्गी होने वाले हैं. इसके बाद मंगल 30 अक्टूबर तक मार्गी ही रहेंगे. ज्योतिष शास्त्र में किसी ग्रह के मार्गी होने का मतलब उसकी सीधी चाल से है. यदि कुंडली में मंगल की स्थिति कमजोर हो तो व्यक्ति को जीवन में कई सारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. इस 13 जनवरी को मंगल के मार्गी होने के बाद चार राशि वालों को थोड़ा संभलकर रहने की सलाह दी जाती है।

वृषभ राशि- मंगल की सीधी चाल आपकी राशि में ही शुरू होने वाली है. ज्योतिषियों का कहना है कि मंगल के मार्गी होने के बाद आपके बीमारियों से संबंधित खर्चे बढ़ सकते हैं. आपको खुद पर या अपनी माता जी की बीमारी पर काफी रुपया-पैसा खर्च करना पड़ सकता है. हालांकि इन समस्याओं से निपटने के लिए आप सक्षम होंगे।

मिथुन राशि- मंगल के मार्गी होने के बाद आपको अपने दांपत्य जीवन में उतार-चढ़ाव देखने को मिल सकते हैं. लाइफ पार्टनर के साथ अनबन बढ़ सकती है. ऐसे में आपके लिए बेहतर होगा कि अपने जीवनसाथी के साथ शांतिपूर्ण तरीके से पेश आएं. विनम्र स्वभाव के साथ चीजों को सुलझाने का प्रयास करें।

तुला राशि- मंगल की दृष्टि आपकी वाणी और भाषा शैली में सुधार तो करेगी, लेकिन फिर भी आपको अपने से बड़ों और अधिकारी वर्ग के लोगों से बातचीत करते समय ज्यादा सावधानी बरतनी पड़ेगी. आकस्मिक घटनाओं से बचने के लिए यात्रा के दौरान अधिक सतर्क रहें. लंबी दूरी की यात्रा करने से बचें. दूसरों से वाहन मांगकर बिल्कुल न चलाएं।

वृश्चिक राशि- मंगल वृषभ राशि में मार्गी होकर आपके स्वभाव में थोड़ी-बहुत आक्रामकता भी लेकर आएंगे. नतीजन सार्वजनिक रूप से आपकी छवि और प्रियजनों के साथ आपके संबंधों पर बुरा असर पड़ सकता है. ऐसे में आपको अपने व्यवहार में सरलता लाने की जरूरत होगी. इस दौरान अपने क्रोध और वाणी पर नियंत्रण रखें. बेवजह के विवाद में पड़ने से बड़ा नुकसान हो सकता है।

ये उपाय करेंगे बचाव

यदि मंगल के मार्गी होने के बाद आपके जीवन में समस्याएं बढ़ने लगें तो इसे शांत करने के लिए भगवान शिव के पुत्र कार्तिकेय की पूजा करें. मंगल देव की कृपा पाने के लिए इनकी पूजा फलदायी साबित होती है. मंगल दोष दूर करने के लिए मंगलमय हनुमान की साधना सबसे अचूक और उत्तम होती है. इसके अलावा, काल भैरव की पूजा व मंत्रों से भी मार्गी मंगल से जुड़ी समस्याओं को खत्म किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

12 − 1 =