CG बलरामपुर: बॉयफ्रेंड के साथ आपत्तिजनक हालत में थी बेटी, पिता ने देखा तो उठाया ये खौफनाक कदम…

बलरामपुर।। जिले से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. जहां एक पिता ने अपनी बेटी के प्रेमी को साथियों संग मिलकर मौत के घाट उतार दिया. फिर लाश को पास में ही कुंए में फेंक दिया. मामला वाड्रफनगर का है. पुलिस ने 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम लोधी निवासी कुलदीप खैरवार (22 वर्ष) दूसरे राज्य में मजदूरी करता था. मकर संक्रांति से एक दिन पहले ही त्योहार मनाने के लिए वो घर लौटा था. उसका प्रेम प्रसंग पड़ोस के गांव की एक युवती से चल रहा था. मकर संक्रांति (15 जनवरी) की रात उसने दोस्तों के साथ शराब पी और प्रेमिका के घर चला गया।

इस दौरान युवती के माता-पिता घर पर नहीं थे. रात में युवती के दो रिश्तेदारों घनश्याम और नंगा झोरी को किसी युवक के आने बात पता चली, तो वे दीवार फांदकर घर में घुसे. यहां उन्होंने युवक और युवती को आपत्तिजनक हालत में देख लिया. इसके बाद दोनों ने मिलकर उसकी बेदम पिटाई की और घर से बाहर निकाला।

बाहर रवि, विजय और हरि खैरवार भी खड़े थे, उन्होंने भी युवक को पीटा. मारपीट के बाद उन्होंने युवक कुलदीप को पकड़ रखा था और मामले की जानकारी युवती के पिता को दी, युवती का पिता घर पहुंचा और कुल्हाड़ी से युवक की गर्दन पर 3-4 बार वार कर उसकी हत्या कर दी. हत्या करने के बाद सबूत छिपाने के लिए सभी ने मिलकर युवक का शव उसके गांव लोधी में ले जाकर एक कुएं में फेंक दिया. इधर दूसरे दिन भी घर नहीं पहुंचने पर युवक के परिजन उसकी तलाश में जुटे थे, लेकिन तीसरे दिन भी उसका पता नहीं चला।

प्रेमिका ने थाने पहुंचकर दी सूचना

इसी बीच 17 जनवरी को प्रेमिका वाड्रफनगर चौकी पहुंची और प्रेमी के साथ हुई वारदात की जानकारी पुलिस को दी. पुलिस तत्परता दिखाते हुए तुरंत गांव पहुंची और कुएं से युवक का शव निकलवाया. पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद युवक का शव उसके परिजनों को सौंप दिया।

पुलिस ने 6 लोगों को किया गिरफ्तार

युवक की हत्या के मामले में पुलिस ने युवती के पिता समेत उसके 6 रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उन्होंने अपना जुर्म कबूल कर लिया. आरोपियों में राम सिंह गोंड, रवि, विजय, हरि खैरवार, घनश्याम और नंगा झोरी शामिल हैं. पुलिस ने सभी 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर बुधवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen + 14 =