14वां वित्त राशि का जमकर हो रहा है बंदर बाँट… 60 हजार का काम करके डकार गए 2.52 हजार रूपये…ग्रामीणों ने किया विरोध ?

बलरामपुर।।रामचंद्रपुर विकासखंड के ग्राम पंचायत तारकेश्वरपुर में 14वें वित्त की राशि का सरपंच व सचिव और अधिकारियों की मिलीभगत से जमकर बंदरबांट किए जाने की बात सामने आ रही है ग्राम पंचायत तारकेश्वरपुर में ग्रामीणों ने सरपंच सचिव पर अधिकारियों की मिलीभगत से 14वां वित्त में भारी भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए तारकेश्वरपुर में मैन स्कूल से प्रभु पंडों के घर तक मुरमीकरण का कार्य कराया गया है जिसकी दूरी लगभग ढाई किलो मीटर होगा जिसमें मात्र 500 मीटर दूरी तक की मुरमीकरण कराया गया है बाकी शेष स्थानों पर मुरम छिड़ककर कोरम पूरा किया गया है।

ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि इसमें मुश्किल से एक से एक लाख 80 लाख खर्च हुए हैं परंतु पंचायत के द्वारा ₹252000 खर्च होना बताया गया है जिसकी जांच किए जाने की आवश्यकता है।

Pradakshina Consulting Private Limited
Pradakshina Consulting Private Limited

ग्राम पंचायत तालकेश्वरपुर के विचखोरीपारा में पंचायत के द्वारा सीसी रोड का निर्माण कराया जा रहा था। कार्य का स्तर इतना गुणवत्ता विहीन था कि ग्रामीण इसे देखते ही भड़क गए एवं कार्य का जमकर विरोध करने लगे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि सड़क निर्माण में काफी अनियमितता बरती जा रही है। जहां सड़क की आवश्यकता है वहां सड़क न बना मनमानी रूप से सीसी रोड का निर्माण किया जा रहा है।

ग्रामीणों ने कहा कि ऐसे गुणवत्ताविहीन निर्माण को हम नहीं होने देंगे।कार्य हो तो गुणवत्तापूर्ण हो एवं ऐसी जगह में हो जहां पर इसकी उपयोगिता हो। इस दौरान जसवंत यादव, मनोज यादव,आदेश यादव, अजय यादव,मनबोध पंच, श्यामनारायण पंच,सत्यनारायण पंडों, लल्लू पंडो, सुनील कोडाकू, दशरथ गोड, देवनारायण सिंह धाना कोड़ाकू, प्रहलाद गुप्ता,रामशरण, दिनेश पंडो मौजूद रहे।

Pradakshina Consulting Private Limited

उप अभियंताओं का मिल रहा साथ

ग्राम पंचायत तालकेश्वरपुर में 14 वें वित्त की राशि में भी भारी हेरफेर करने का आरोप ग्रामीणों ने लगाया है। सिर्फ इसी ग्राम पंचायत में 14वां वित्त की राशि में हेरफेर या अनियमितता नहीं बरती गई है वरन पूरे विकासखंड में कमोबेश यही स्थिति है। उप अभियंताओं के द्वारा भी फर्जी मूल्यांकन कर अनियमितता को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिससे ग्रामीणों में नाराजगी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.